बुधवार, 25 मार्च 2020

"21 दिन अगर गंभीरता से नहीं लिए, तो भारत 21 साल पीछे चला जाएगा"

21 दिन यानी 14 अप्रैल तक पूरा भारत लॉकडॉउन हैं। पीएम मोदी ने 24 मार्च की रात 8 बजे टीवी पर देशवासियों  को संबोधित किया। पीएम ने कहा, आज रात 12 बजे से पूरे देश में lockdown है। lockdown को कर्फ्यू की तरह लेना हैं।


Corona,
पीएम मोदी ने कहा कि Corona महामारी की रूप ले चुका है। इसे हराने के लिए lockdown को गंभीरता से लेना जरूरी है। अगर ऐसा नहीं किया तो फिर देश में हालात काबू से बाहर हो जाएंगे। देश 21 साल पीछे चला जाएगा।
Lockdown को लेकर घबराना नहीं है। बस एक ही काम करना हैं। सिर्फ घर में रहना है। जरूरी सेवाएं चालू रहेगी। 
क्या बंद रहेगा और क्या चालू रहेगा। एक बार नजर डाल लेते हैं।


ये सेवाएं बंद रहेंगी 
किसी भी सार्वजनिक परिवहन सेवा को अनुमति नहीं होगी। इसमें निजी बसें, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, रिक्शा, ई-रिक्शा सब बंद रहेंगे।
दिल्ली में डीटीसी की 25 प्रतिशत बसें चलेंगी।

सभी दुकानें, बाजार, व्यापारिक प्रतिष्ठान, फैक्ट्री, वर्कशॉप, ऑफिस, गोदाम, साप्ताहिक बाजार ये सब बंद रहेंगे।

इंटरस्टेट बसें, ट्रेन और मेट्रो सेवाएं निलंबित रहेंगी। सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द रहेंगी।

किसी तरह का निर्माण कार्य फिलहाल बंद रहेगा। सभी तरह के धार्मिक स्थान बंद रहेंगे।

ये सुविधाएं रहेंगी चालू 
दूध, सब्जी और दवा की दुकानें लॉकडाउन के दौरान खुले रहेंगे।

अस्पताल और क्लीनिक भी इस दौरान खुले रहेंगे।

इसके अलावा राशन की दुकानें भी खुली रहेंगी।

किसी बेहद जरूरी काम के लिए भी प्रशासन की ओर से छूट मिल सकती है।

बैंकों के कैश से जुड़ी सुविधाएं जारी रहेंगी। टेलिकॉम, इंटरनेट और डाक सेवा जारी रहेंगी।

सरकार ने पेट्रोल पंपों और एटीएम को आवश्यक श्रेणी में रखा है, इसलिए जरूरत के हिसाब से इन्हें खोला जा सकता है।

किन्हें मिलेगी छूट
पुलिस का काम जारी रहेगा। साथ ही कानून-व्यवस्था को लागू कराने वाले विभाग भी काम करेंगे।

स्वास्थ्यकर्मियों और अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों का काम भी जारी रहेगा।

जेल विभाग और बिजली व पानी के दफ्तरों में भी काम जारी रहेगा।

नगर निगम के साफ सफाई या कूड़ा उठाने जैसे काम भी चलते रहेंगे। इसके अलावा जेल विभाग के काम भी चलते रहेंगे।

मीडियाकर्मियों को भी इस दौरान आने जाने की छूट होगी।

क्या निजी वाहन चला सकेंगे 
अगर बहुत जरूरी हो तो लॉकडाउन में भी निजी वाहनों का प्रयोग किया जा सकता है।

हालांकि बिना वजह बाहर घूमने पर पुलिस कार्रवाई कर सकती है।

आपात व्यवस्था में एंबुलेंस को भी बुला सकते हैं।

बिना मतलब घूमने पर पाबंदी
लॉकडाउन का फैसला इसलिए लिया गया है ताकि लोग एक-दूसरे के संपर्क में न आएं।

इसलिए जरूरी नहीं होने पर घर से बाहर न निकलें।

क्या शादी-विवाह के कार्यक्रम होंगे 
संक्रमण फैलने के डर से किसी भी कार्यक्रम के लिए लोगों के जुटने पर पाबंदी रहेगी।

बहुत जरूरी होने पर आपको प्रशासन से अनुमति लेनी होगी।

क्या निजी कर्मचारियों को काम पर जाना होगा

लॉकडाउन में सरकारी हो या निजी कंपनी सभी बंद रहेंगी। सिर्फ जरूरी विभाग के कार्यालय खुले रहेंगे।

नई पोस्ट की सूचना के लिए Telegram पर Delhi TV सर्च कीजिए और it

0 comments:

Thanks to Visit Us & Comment. We alwayas care your suggations. Do't forget Subscribe Us.
Thanks
- Andaram Bishnoi, Founder, Delhi TV